श्री गोधाम महातीर्थ पथमेड़ा के गो उत्पादों हेतु अपने नजदीकी वेदलक्षणा स्टोर अथवा  www.vedlakshana.com पर ऑनलाइन ऑर्डर कर सकते है|  Click Here

Who We Are?

वेदलक्षणा गोवंश के लिये प्राणलेवा भयंकर दुष्काल ईस्वी सन् 1987 से 1993 के मध्य गोरक्षा आन्दोलन का विधेयात्मक (सकारात्मक) स्वरूप देशवासियों के सामने आया। उपरोक्त समयावधि में माँ नर्मदा एवं कल्पगुरु दत्तात्रेय भगवान की प्रेरणा से परम श्रद्धेय गोऋषि स्वामी श्रीदत्तशरणानन्दजी महाराज का राजस्थान की भूमि पर लम्बे अज्ञातकाल के बाद आगमन हुआ। कुछ सत्संगी साधकों द्वारा अगस्त सन् 1992 में एकान्त स्थली के रूप में सांचोर शहर के निकट आनन्दवन पथमेड़ा गोचरभूमि पर स्थित कामधेनु सरोवर के सन्निकट स्थान चयनित किया।.

Read More →

0

TOTAL COW

0

TOTAL GOSHALAS

0

TOTAL MEMBERS

0

TOTAL GOSEVAK